मुफ्तखोर की आवाज़ उठाने वाली पार्टी भी केजरीवाल सरकार की राह पर: रामेश्वर चौधरी

267

कोटा: आम आदमी पार्टी के टोंक जिलाध्यक्ष रामेश्वर चौधरी ने हमारे रिपोर्टर को दिए इंटरव्यू में बताया कि जब दिल्ली में केजरीवाल सरकार आम आदमी को राहत दे रही थी, तब भाजपा की केंद्र सरकार और विभिन्न प्रदेशों के मुख्यमंत्री व मंत्रियों ने केजरीवाल सरकार पर दिल्ली को मुफ्तखोरी करने वाली सरकार बताया था। लेकिन आज उसका उल्टा हो गया है, असम राज्य में भाजपा की सरकार है, जिसने अपने बजट भाषण में वित्त मंत्री हिमंत बिस्वा शर्मा ने घोषणा की है कि 27लाख गरीब परिवारों को ₹10000 की वार्षिक मदद और 58लाख परिवारों को मुफ्त में चावल देना शामिल है।

दिल्ली में अरविंद केजरीवाल की अगुवाई वाली ‘आप’ सरकार की तर्ज पर चलते हुए शर्मा ने हर महीने 30यूनिट से कम बिजली खर्च करने वाले परिवार को मुफ्त में बिजली उपलब्ध करवाएगी सरकार, राज्य की राजधानी में महिलाओं वरिष्ठ नागरिकों और बेरोजगार युवाओं को मुफ्त बस यात्रा की सुविधा देने का प्रस्ताव रखा है, उन्होंने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए यह व्यवस्था की है, जिससे यह साबित हुआ है कि दिल्ली में बैठी केंद्र की भाजपा केवल जुमलों की सरकार मात्र रह गई है, भाजपा की कथनी और में फर्क है, भाजपा जब वोट आते हैं तब तो आम आदमी के हितों में कदम उठाने वाली केजरीवाल सरकार के ऊपर मनगढ़त और गंदे-गंदे आरोप लगाते हैं, और बाद में उन्हीं राज्यों की भाजपा सरकारों के मंत्री भी केजरीवाल सरकार की तरह ही काम करने लग जाती हैं। रामेश्वर चौधरी ने अरविंद केजरीवाल को बधाई देते कहा कि उन्होंने आज देश को राह दिखा दी है कि जनता से टैक्स वसूला जाता है, वह जनता पर ही खर्च हो, ना कि अमीरों पर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here