बकरी को बचाने के लिए बाघ से छड़ी लेकर भिड़ गई युवती

261

भंडारा। जरा सोचिए अगर आपके सामने अचानक बाघ आ जाए, तो क्या मंजर होगा। महाराष्ट्र के भंडारा जिले में जब एक युवती को ऐसे ही हालात का सामना करना पड़ा, तो उसने जबरदस्त हिम्मत दिखाते हुए बाघ से मुकाबला किया। 23 साल की युवती इस दौरान बाघ से एक मामूली छड़ी लेकर भिड़ गई। यहां सकोली तालुका के अंतर्गत आने वाले उस गांव में रुपाली मेश्राम के घर के बाहर बंधी हुई बकरी पर बाघ ने हमला कर दिया था।

बकरी की आवाज सुनकर रुपाली अपने घर से दौड़कर बाहर आईं और पास में पड़ी छड़ी उठाकर बाघ पर वार कर दिया। इसी दौरान बाघ ने रुपाली पर हमला कर दिया। हालांकि, यह सब देखकर आनन-फानन में रुपाली की मां ने उन्हें घर के अंदर खींच लिया और दरवाजा बंद कर दिया। इस दौरान दोनों को मामूली चोटें आईं।

प्राथमिक उपचार के बाद किया गया डिस्चार्ज…

रुपाली मेश्राम को सिर, पैर और हाथ में चोट लगी है। इलाज के बाद उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया। हालांकि, बाघ के द्वारा किए गए हमले में बकरी की मौत हो गई लेकिन रुपाली के हौसले की सभी दाद दे रहे हैं।

‘सूचना के 30 मिनट बाद पहुंची टीम’…

पीड़ित रुपाली और उनके परिजनों ने बताया कि फॉरेस्ट गार्ड को बाघ की सूचना दी गई थी लेकिन बाघ के भाग जाने के 30 मिनट बाद टीम मौके पर पहुंची। गौरतलब है कि पास में जंगल होने की वजह से अक्सर जंगली जानवर गांव में घुस जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here