आम आदमी पार्टी हमेशा किसानों के साथ खड़ी है:डोटासरा

1286

आम आदमी पार्टी हमेशा किसानों के साथ खड़ी है:डोटासरा
झुंझुनू. नवलगढ़ में 20 जुलाई को आम आदमी पार्टी ने प्रेस कॉंफरेंस रखी, जिसमें आप झुंझुनू लोकसभा पीओसी सदस्य विजेंद्र डोटासरा ने पत्रकार वार्ता में बताया कि केन्द्र और प्रदेश की बीजेपी सरकार ने चुनावों से पहले किसानों से वादा किया था कि अगर भाजपा सरकार पूर्ण बहुमत में आती हैं तो किसानों को उसकी ऊपज फसल का पूरा मूल्य दिया जाएगा,स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू की जाएगी और किसानों को सब्सिडी तथा अन्य खेती किसानी कार्यों के लिए सहयोग दिया जाएगा.
जबकि वास्तविकता यह है कि आज केन्द्र और प्रदेश में बीजेपी की सरकार बनी हुई हैं लेकिन पिछले 3 सालों में ऐसा एक भी काम नहीं किया गया है,जिससे की केन्द्र और प्रदेश सरकार के द्वारा किसान को राहत मिले.

दिल्ली सरकार की तर्ज पर राजस्थान के किसानों को भी मुआवजा मिले….
डोटासरा ने कहा कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी की केजरीवाल सरकार है जहां किसानों को ₹20000 प्रति एकड़ मुआवजा दिया जा रहा है. गांव में ग्राम सभाओं के माध्यम से पंचायत स्तर पर 2 करोड़ रुपए विकास कार्यों के लिए दिए जा रहे हैं. जब दिल्ली सरकार किसानों के लिए यह सब कर सकती है तो राजस्थान प्रदेश एवं केंद्र सरकार किसानों के हित के लिए क्यों बात नहीं कर रही है. राजस्थान में आए दिन किसान आत्महत्या कर रहे हैं, किसानों का खेती से मोहभंग हो रहा है और बड़े-बड़े उद्योगपतियों का करोड़ों रुपए इसी सरकार ने माफ किया है तो किसानों का लोन माफ करने में इतनी देरी क्यों, आम आदमी पार्टी यहा मांग करती है कि किसानों के हित के लिए स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू की जाए, उनका लोन माफ किया जाए एवं रियायती दर पर बिजली कृषि उपकरण एवं अन्य आधारभूत सुविधाएं उनको उपलब्ध करवाई जाए.

आम आदमी पार्टी किसानों के हक के लिये आंदोलन करने को तेयार…..
हम देश और प्रदेश में चल रहे किसान आंदोलन के साथ हैं, किसानों के साथ खड़े हैं और जब तक डटे रहेंगे जब तक कि किसानों की उनकी जायज मांगों को सरकार मान नहीं लेती और इसके लिए हमें जिस स्तर पर धरना-प्रदर्शन और आंदोलन करना पड़ेगा हम करते रहेंगे. आम आदमी पार्टी का हरेक वोलिंटीयर गांव-गांव, ढाणी-ढाणी, घर-घर जाकर किसानों को जगाएंगे और उनके हक के लिए उनके साथ मिलकर गांव के चौक से लेकर संसद तक आवाज उठाएंगे.

जिसमें पार्टी के वरिष्ठ नेता गीदा राम सैनी सांवरमल महला और सोनाराम मुहाल अशोक सैनी नीरज सैनी गजानंद उपस्थित थे

 

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here