”आप” की रिसर्च सेल कर रही है लोकसभा चुनाव के लिए रणनीतिपूर्वक मजबूत तैयारी

398

नई दिल्ली: आगामी लोकसभा चुनाव 2019 की जंग के लिए आम आदमी पार्टी ने रणनीतिपूर्वक लड़ने के लिए अभी से तैयारी शुरू कर दी है। राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप के बीच विभिन्न विपक्षी पार्टियों ने अपनी-अपनी रिसर्च टीम बनानी शुरू कर दी है। इन पार्टियों की ‘पोल-खोल’ टीम की भूमिका बेहद स्पष्ट है, जिनका काम गवर्नेंस के मुद्दे पर एनडीए गठबंधन की सरकार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हर ‘झूठ’ को बेनकाब करना है। साथ ही अपने नेताओं को रैलियों और प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए फैक्ट और आंकड़े उपलब्ध कराना है।

जानिए क्या काम है केजरीवाल की “आप रिसर्च सेल” का:-

आम आदमी पार्टी ने अपनी रिसर्च सेल में देश के अलग-अलग क्षेत्रों से 30+ वॉलंटियर की टीम बनाई है, जिसकों आप के युवा नेता आतिशी मार्लेना और प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज लीड कर रहे है। रिसर्च सेल के हेड अर्जुन जोशी ने कहा कि- “रिसर्च सेल की शुरुआत दो महीने की इंटर्नशिप के साथ शुरू हुई थी, लेकिन अब इसे स्थायी बॉडी का रूप दे दिया गया है।”

आम आदमी पार्टी ने राजस्थान में उतारे 7 नए प्रत्याशी, अब तक 17 विधानसभा प्रत्याशी घोषित किए

जानिए कौन है रिसर्च टीम में…

बता दे कि आम आदमी पार्टी की रिसर्च सेल में 26 साल से कम उम्र के करीब 30 सदस्य है, जिसमें इतिहास, राजनीति शास्त्र, गणित और इंजीनियरिंग ग्रेजुएट्स भी शामिल है। ये सभी लोग पुख्ता आंकड़े और तथ्य इकट्ठा करते है, ताकि इस बात को साबित किया जा सके कि मोदी सरकार फिसलती जा रही है।

कैसे जुटाते है सटीक आंकड़े और कितनी विश्वसनीयता रहती है इन पर…

आप की रिसर्च टीमे विभिन्न विभागों में आरटीआई डालकर सूचना जुटा रही है, ताकि प्रमाणित जानकारियों के आधार पर तथ्य इकट्ठा किए जा सके। आरटीआई में मिले डाटा को बीजेपी नेताओं और मंत्रियों के बयान और दावे से मिलाकर आधिकारिक वेबसाइट और सोशल मीडिया पर पुश किया जा रहा है।

दादा-परदादा के नाम का पता नहीं वंश बढ़ाने के लिए करते है बेटी की कोख में हत्या, IAS नवीन जैन ने रक्षक वालंटियर्स को प्रशिक्षण जिले के 500 से अधिक युवाओं ने लिया प्रशिक्षण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here