कच्छ यूनि​वर्सिटी में आरएसएस से जुड़े एबीवीपी संगठन के कार्यकर्ताओं ने प्रोफेसर के चेहरे पर पोती कालिख, कैंपस में घुमाकर निकाला जुलूस

गुजरात में एबीवीपी कार्यकर्ताओं की गुंडागर्दी, कच्छ यूनि​वर्सिटी में एबीवीपी समर्थकों ने प्रोफेसर के चेहरे पर कालिख पोत कैंपस में निकाला जुलूस

551

राजकोट। गुजरात के क्रांतिगुरु ‘श्यामजी कृष्ण वर्मा कच्छ यूनिवर्सिटी’ में बीजेपी और आरएसएस से जुड़े छात्र संगठन एबीवीपी के शरारती कार्यकर्ताओं के द्वारा विज्ञान विभाग के एक प्रोफेसर के साथ बदसलूकी का मामला सामने आया है। मीडिया रिपोर्टर्स के अनुसार बताया जा रहा है कि सीनेट चुनाव में धांधली का आरोप लगाते हुए आरएसएस से जुड़े छात्र संगठन एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने 26 जून मंगलवार को पहले तो एक प्रोफेसर के चेहरे पर कालिख पोती और फिर कैंपस में उनका जुलूस भी निकाला। एबीवीपी का झंडा उठाए छात्रों ने ‘वन्दे मातरम’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे भी लगाए, इसके बाद भी प्रोफेसर से नोकझोंक की। मामला सामने आने के बाद आरोपी कार्यकर्ताओं के खिलाफ केस दर्ज कर पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

एबीवीपी की गुंदागर्दी के आगे पीड़ित प्रोफेसर की आवाज फीकी पड़ी…

छात्रों की गुंदागर्दी का आलम ये था कि प्रोफेसर वाइस चांसलर के सामने अपना पक्ष रखना चाहते थे, लेकिन छात्रों की ऊंची आवाज़ में उनकी आवाज़ दब गई। बाद में प्रोफेसर को अस्पताल ले जाया गया, जहाँ कच्छ यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर सीबी जाडेजा भी मौजूद थे। उन्होंने पुलिस को मामले की जानकारी दी. प्रोफेसर ने भी उनसे बदतमीजी करने वाले छात्रों के ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज कराई. पुलिस ने आरोपी छात्रों के ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

कच्छ यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर चंद्रसिंह जडेजा ने इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में बताया कि एबीवीपी समर्थकों का एक समूह प्रोफेसर गीरीन बख्शी के पास उस समय पहुंचा जब वह एक क्लासरूम में लेक्चर दे रहे थे। छात्रों के समूह ने उन्हें क्लास से खींचकर उनके मुंह पर कालिख पोत दी और यूनिवर्सिटी रजिस्ट्रार के आॅफिस तक उनका जुलूस निकाला। इसके अलावा कुलपति आॅफिस का भी करीबन एक घंटे तक घेराव किया।

कुलपति ने आगे बताया कि उपद्रवी छात्रों ने आरोप लगाया कि एबीवीपी समर्थकों द्वारा जमा किए गए वोटर रजिस्ट्रेशन फॉर्म को प्रोफेसर बक्शी द्वारा जानबूझ कर रिजेक्ट किया जा रहा है। हालांकि प्रथमदृष्टया यह आरोप आधारहीन साबित हुआ, लेकिन एबीवीपी समर्थक उग्र हो गए और उन्होंने प्रोफेसर बक्शी पर हमला कर दिया।

घटना के बाद से यूनिवर्सिटी में तनाव का माहौल है। एबीवीपी के कार्यकर्ताओं की हरकत से विश्वविद्यालय के अध्यापक गुस्से में है और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग कर रहे है। अध्यापकों ने कहा है कि अगर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं हुई तो वे लोग प्रदर्शन करेंगे। यूनिवर्सिटी में तनाव को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिसबल को तैनात कर दिया गया है।

 

एबीवीपी समर्थकों गुंडागर्दी आई सामने, प्रोफेसर को कालिख पोतकर परिसर में घुमाया

गुजरात के कच्छ यूनिवर्सिटी से छात्र संगठन Akhil Bharatiya Vidyarthi Parishad (ABVP) की गुंडागर्दी सामने आई है. दरअसल सीनेट के चुनाव में धांधली का आरोप लगाते हुए एबीवीपी के छात्रों ने एक प्रोफेसर के मुंह पर कालिख पोत दी. जिसके बाद प्रोफेसर को पूरे यूनिवर्सिटी परिसर में घूमाया गया.ABVP Gujarat CMO Gujarat BJP Gujarat Indian National Congress – Gujarat Aam Aadmi Party Gujarat Vijay Rupani

Publiée par First Khabar sur Mercredi 27 juin 2018

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here