अखाड़ा परिषद ने जारी की ढोंगी बाबाओं की तीसरी लिस्ट, दो नए नाम हुए शामिल, जानिए कौन है ये-

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने बाबाओं की सूची में दो मशहूर नाम शामिल किए हैं। इनमें चक्रपाणी और प्रमोद कृष्णम का नाम शामिल है

1057

लखनऊ। आस्था और श्रद्धा के नाम पर लोगों का आबरू से खिलवाड़ करने वाले ढोंगी बाबाओं की अपने देश में कमी नहीं है। आसाराम बापू, रामशंकर तिवारी, राम रहीम समेत कई ऐसे बाबा है, जिन्होंने महिलाओं को अपनी गंदी सोच का शिकार बनाया। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने फर्जी बाबाओं की सूची में दो मशहूर नाम शामिल किए हैं। इनमें दिल्ली के चक्रपाणी और प्रमोद कृष्णम का नाम शामिल है।

फर्जी बाबओं की कोई संप्रदाय नहीं होती है…

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की बैठक की गयी जिसमें इन दो बाबाओं के नाम पर फर्जी होने का ठप्पा लगाया गया। इसमें परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने कहा कि जनता से अपील है कि वे ऐसे बाबाओं से दूर रहें, जो किसी परंपरा या संप्रदाय से नहीं हैं। साधु संत सन्यासी परंपरा, उदासीन परंपरा, नाथ परंपरा, वैष्णव संप्रदाय, शिव संप्रदाय वगैरह से आते हैं। फर्जी बाबओं की कोई संप्रदाय नहीं होती है।

रामशंकर तिवारी

इस ढोंगी बाबा पर संतानहीन महिलाओं के साथ गलत हरतक कर उनके अश्लील वीडियो बनाए जाने के आरोप हैं। बाबा सीसीटीवी कैमरे के सामने महिलाओं को बंद कमरे में बुलाकर उनकी कमर पर लाल कपड़ा बांधकर गलत काम करते थे। उनकी हरकत का भांडा फोड़ तब हुआ, जब उनका कंप्यूटर खराब हो गया था।

भीमानंद महाराज

यूपी के चित्रकूट के रहने वाले संत भीमानंद महाराज भक्ति की आड़ में गंदी हरकतें करता था। इनकी हरकतों की वजह से इनका धंधा एकदम टॉप पर चलता था। न पैसों की कमी न कुछ। भक्तों को सादगी का पाठ पढ़ाने वाले इस ढोंगी के पास अकूत संपत्ति है।

आसाराम बापू

कई लोग इन्हें अपना मसीहा मानते थे। लेकिन इन्होंने अपने भक्तों के विश्वास का मजाक बना कर उन्हें अपनी गंदी सोच का शिकार बनाया।। इन पर हत्या, छेड़खानी और जान से मारने की धमकी का आरोप है। इन्होंने इंदौर के आश्रम में 16 साल की लड़की का उपचार करने का बहाना बनाकर अपनी कुटीया में उसके साथ दुष्कर्रम किया। इसके बाद इन्हें जोधुपुर आश्रम में बंद कर दिया गया।

नारायण साईं

2008 में मोटेरा स्थित आसाराम गुरूकुल आश्रम में दो छात्रों की मौत हो गयी। आरोप था कि छात्रों की मौत तंत्र-मंत्र से हुई थी। इसके बाद 2009 में उन पर आरोप लगा था कि आश्रम में लड़कियों के साथ दुष्कर्म किया जाता है और काले जादू के जरिये उनकी जान ली जाती है।स्वामी नित्यानंद

अपने भक्तों द्वारा विश्वास की नजरों से देखे जाने वाले स्वामी नित्यानंद की हरकतों का भांडा सीडी वायरल होने से फूटा था। उस सीडी में ये जिस महिला के साथ दुष्कर्म करते नजर आ रहे थे, वो दरअसल अभिनेत्री थीं।

गुरमीत राम रहीम

बात जब बाबाओं की हो, तो उसमें गुरमीत राम रहीम का नाम कैसे नहीं हो सकता। अपनी गुप्त गुफा में साध्वियों के साथ रंगरेलियां करने वाले बाबा राम रहीम के किस्से किसी से छुपे नहीं हैं। इनके नेक काम में साथ दिया था इनकी बेटी हनीप्रीत सिंह ने।
25 अगस्त 2017 को पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत ने डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को दुष्कर्म के मामले में दोषी करार दिया। जिसकी वजह से पंचकुला और सिरसा में दंगे हुए और प्रशासन की कारवाई से हकीकत मेँ 1000 से ज्यादा डेरा प्रेमी मारे गए जबकि सरकारी आकड़ों में मात्र 38 मौत दिखाई गयी। राम रहीम पर सजा का फैसला सुनाया गया था जिसमें डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को 20 साल की सजा सुनाई गयी।

रामपाल हिंदू

हरियाणा के रोहतक के पास बने आश्रम में रहने वाले पाखंडी बाबा रामपाल हिन्दू न सिर्फ महिलाओं के साथ दुष्कर्म करते थे बल्कि धर्म की गलत व्याख्या कर वे देवी देवताओं को अनशन भी कहते थे। इनके आश्रम में जब छापा मारा गया, तो वहां ढेरों सोना चांदी, सीडी और कई ऐसे सामान बरामद हुए थे जिन्हें देख चौंकने वाली स्थिती बन गयी थी।

रामकृपाल त्रिपाठी

प्रतापगढ़ के मनगढ़ कस्बे के रहने वाले रामकृपाल त्रिपाठी उर्फ कृपालु महाराज पर लड़कियों के अपहरण और यौन शोषण का आरोप है। ये आरोप उनपर 1991 में लगाए गए थे। बाबा तो बाबा हैं पिर वो चाहे देश में हों या विदेश में आरोप तो हर जगह लगेंगे। विदेश में भी वे महिलाओं की आबरू से छेड़खानी करने से बाज नहीं आए। बस फिर क्या था 22 वर्षीय युवती ने कृपालु महाराज पर त्रिनिदाद और टोबैगो में दुराचार का आरोप लगा और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

स्वामी सच्चिदानंद

उन्नाव जिले से सांसद स्वामी सच्चिदानंद गिरी उर्फ साक्षी महाराज पर 1997 में भाजपा नेता ब्रह्मदत्त द्विवेदी की हत्या, 2000 में एता के कॉलेज प्रिंसिपल के साथ दुष्कर्म, फर्रुखाबाद में शिष्या के साथ गलत हरकत करने के आरोपों ने स्वामी सच्चिदानंद को चर्चित बना दिया।

राधे मां

बाबाओं के महिलाओं से शारीरिक संबंध बनाने के किस्से तो खूब सुने हैं। लेकिन इससे विपरीत देवी मां का रूप लेकर अपने भक्तों को आस्था में लीन करवाने वालीं राधे मां भी इन बाबाओं से कम नहीं हैं। इनपर यौन शोषण के आरोप लग चुके हैं। यहीं नहीं बल्कि दहेज लेने और मारपीट के भी आरोप इन पर लगे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here