सीकर: आर्मी भर्ती में जज्बा दिखाने आये 8 बहिनों के भाई नितेश, जानिए इनके संघर्ष की दास्तां

127

सीकर। इंडियन आर्मी की सीकर के जिला खेल स्टेडियम में इन दिनों सेना भर्ती चल रही है, यह सेना भर्ती २ फरवरी से शुरू हुई थी और १४ फरवरी तक चलेगी। सेना भर्ती में हिस्सा लेने के लिए सीकर जिले भर से ३३,११५ अभ्यथियों ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाया था।
भर्ती में कई ऐसे युवा भी आते है जो अपने आपको देश भक्ति में रंग लेना चाहते है हर मुसीबत को मुहतोड़ जवाब देना चाहते हे बॉर्डर पर जाकर दुश्मनों की चुनौतियों को जवाब देने का जज्बा रखते है शायद यही वजह हे पारिवारिक परिस्तिथियाँ भी यहाँ के युवाओं को फौजी बनने में नहीं रोक पा रही है, इस बात का ताज़ा उदहारण सीकर जिला खेल स्टेडियम में हो रही भर्ती में देखने को मिलता है।

आठ बहनों के भाई आर्मी में…

 

आर्मी में ज्वाइन होने के लिए कोई इकलौता बेटा फौजी बनने आया है तो कहीं से आठ बहनों के भाई फौजी बनने के मकसद से अपना भाग्य आजमा रहे है। हम बात कर रहे है शनिवार को सेना भर्ती में दौड़ क्र एक्सिक्लेट में आने वाले नितेश सिंह की। नितेश सीकर जिले की नीमकाथाना तहसील के हसामपुर पाटन निवासी है, जिनकी पारिवारिक स्थति बहुत कमजोर है नितेश का भाई जितेंद्र पिछली भर्ती में आर्मी में सलेक्ट हुआ। इन दो भाइयों के आलावा परिवार में आठ कुंवारी बहनें है। भाई जितेंद्र(आर्मी में चयन) की शादी हो चुकी है और अब आठों बहिने की शादी की जिम्मेदारी भी इन दो भाइयों पर है। पिता महेंद्र कुमार अधिकांशत बीमार रहते हुए पुस्तैनी जमीन की उपज के सहारे घर का खर्च चलते है।

मां सुरेश देवी गृहणी है। परिवार के खर्च में सहयोग के लिए खुद ने कॉलेज भी प्राइवेट किया। नितेश भी अपने बड़े भाई की तरह फौजी बनना चाहता है आपको बता दे कि नितेश के बड़े भाई जितेंद्र भी पिछली सेना भर्ती में चयनित हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here