रवीश कुमार ने पीएम को इंटरव्यू के लिए चैलेंज किया, लोग बोले-पहले पानी पीकर भागे थे इस बार ग्लूकोज चढ़ाना पड़ेगा

1008

CBI का NDTV के को-फाउंडर के घर पर छापेमारी…

एनडीटीवी के को-फाउंडर व ऑपरेटर प्रणब रॉय के घर सीबीआई की छापेमारी को लेकर मोदी सरकार की देशभर में आलोचना होनी शुरू हो गई है।

NDTV के समर्थन में राजनीतिक पार्टियों और समाजिक कार्यकर्ता उत्तरी मैदान में

तमाम राजनीतिक दलों से लेकर सामाजिक कार्यकर्ताओं ने सरकार के इस कदम की खूब आलोचना कर रहे है। आम आदमी पार्टी ने सीबीआई और सरकार को तोता-मैना तक बोल दिया है।

इसके अलावा कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने भी मीडिया और सरकार पर तीखा हमला किया है। इसी कारण तमाम देश-विदेश में लोग मोदी सरकार की कड़ी आलोचना कर रहे हैं। लेकिन सोशल मीडिया पर तो एक से बढ़कर एक प्रतिक्रियाओं आऩी शुरू हो गई हैं। कोई इस कार्यवाही को हताशा तो कोई इसे बदले की भावना कह रहा है।

रवीश कुमार की तीखी टिप्पणी पर उठा सवाल….

तभी एक यूजर ने एनडीटीवी के पत्रकार रवीश कुमार की तीखी टिप्पणी पर एक सवाल उठाया है। रवीश कुमार ने पीएम मोदी को सीधे तौर पर आमने-सामने आने का चैलेंज दिया है।

तो आप डराइये, धमकाइये, आयकर विभाग से लेकर सबको लगा दीजिये। ये लीजिये हम डर से थर थर काँप रहे हैं। सोशल मीडिया और चंपुओं…

Publiée par Ravish Kumar sur Dimanche 4 juin 2017

यह प्रतिक्रिया सीधे तौर पर नहीं बल्कि इस तरह लिखी है कि, उन्होंने कहा कि, हुजूर अगर इतनी जल्दी है एनडीटीवी को मिटाने की तो एक बार आमने-सामने आ जाइए। हम होंगे और आप होंगे साथ में लाइव कैमरा होगा।

 

दरअसल मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री हुआ करते थे तब तेजतर्रार पत्रकार करण थापर के साक्षात्कार में बीच में उठकर चले गए थे।

कैमरा बंद नहीं हुआ था इसलिए उन्होंने पानी पीया और हमारी तुम्हारी दोस्ती सलामत रहे यह कहते हुए चले दिए थे। उस बाकी के हिस्से को चैनल ने प्रसारित कर दिया। जिसके बाद काफी मज़ाक बनाया गया था।

Also Read:- सीबीआई ने एनडीटीवी को-फाउंडर परिणाम रॉय के घर पर छापेमारी की, बैंक से धोखाधड़ी का मामला

1 COMMENT

  1. […] अधिकारी विटोरियो कोलाओ ने कहा, “घृणा भाषण और “फर्जी समाचार” समुदाय…” उन्होंने कहा, “हम इस तरह की अपमानजनक […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here