फर्जी तरीके से जुटाए 1.14 करोड़ लाख करोड रुपए – पंजाब में कांग्रेस के मंत्री राणा गुरजीत सिंह पर लगे आरोप

360

फर्जी तरीके से जुटाए 1.14 करोड़ लाख करोड रुपए – पंजाब में कांग्रेस के मंत्री राणा गुरजीत सिंह पर लगे आरोप

2014 में भ्रष्टाचार के मुद्दे पर सरकार दवा लें गांव आने वाली कांग्रेस पार्टी पिछली गलतियों से सीखते हुई नजर नहीं आ रही है | गुरजीत सिंह पर पारिवारिक कंपनी राणा शुगर लिमिटेड पर गलत तरीके से धोखाधड़ी से 1.14 करोड़ रुपए जुटाने का आरोप है|

कंपनी ने यह रुपए बिना सेबी को बताएं जुटाए हैं जो कि FEMA कभी उल्लंघन है | इतनी बड़ी धनराशि जुटाने के बाद SEBI भी नींद से जागा व ED  को इस  घपले की जानकारी  दी|

राणा शुगर पर विदेशी निवेशकों को बैंक गारंटी देने का भी आरोप है|  आरोपों के अनुसार विदेशी निवेशकों ने राणा शुगर में हिस्सेदारी खरीदने के लिए बाहर के बैंकों से भी लोन लिए हैं

कंपनी के MD  वह राणा गुरजीत सिंह के पुत्र राणा इंद्र प्रताप सिंह ने आरोपों को खारिज किया है|

ED ने इंद्र प्रताप सिंह की दलीलों से असंतुष्ट होते हुए 17 तारीख को संपूर्ण दस्तावेजों के साथ हाजिर होने के निर्देश दिए हैं | नोटिस 2 जनवरी को दिया गया था|

यहां पर बड़ा सवाल यह उठता है,  कि यूपीए के शासनकाल में हुए ताबड़तोड़ घोटालों के बावजूद कोई भी कांग्रेस का बड़ा नेता किसी भी प्रकार की जांच में नहीं फसा है|  और वर्तमान में बीजेपी सरकार होते हुए सीबीआई का पूरा जांच दल होते हुए,  सभी घोटालेबाज बिना किसी परेशानी के वित्तीय घोटालों में वित्तीय घोटालों को अंजाम दिए जा रहे हैं|

अपने वादा अनुसार भारतीय जनता पार्टी सीबीआई को एक पूर्णतया स्वतंत्र एजेंसी क्यों नहीं बना रही है ? ताकि बिना राजनीतिक दबाव के विभिन्न घोटालेबाजों के खिलाफ मुकदमें चल सके वह तेजी से निपटारा हो सके|  ऐ से तीखे सवाल निश्चित ही 2019 में बीजेपी से ही पूछे जाएंगे|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here