माकपा ने पेट्रोल, डीजल की कीमतें घटाने की मांग की

1057
अंतर्राष्ट्रीय बजार में कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट का हवाला देते हुए मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने पेट्रोल डीजल की कीमतें कम करने की मांग की है।
पार्टी के मुखपत्र ‘पीपुल्स डेमोक्रेसी’ के संपादकीय में कहा गया कि भारत में पेट्रोल और डीजल की खुदरा कीमतें नई ऊंचाइयों पर हैं।

पेट्रोल और डीजल की कीमतें घटाने की मांग की…..

देश के विभिन्न शहरों में पेट्रोल की कीमत 70 रुपये से लेकर 79 रुपये प्रति लीटर तक है, यानी की औसतन 74 रुपये प्रति लीटर है। जबकि डीजल की कीमते 61-62 रुपये प्रति लीटर है।
दैनिक संशोधन मूल्य पेश होने के बाद से एक जुलाई से पेट्रोल की कीमतें 6.17 प्रति लीटर बढ़ गई।
संपादकीय में कहा गया, “उत्पाद शुल्क में तेजी से और लगातार वृद्धि का कोई औचित्य नहीं है। पेट्रोल और डीजल के दरों में पर्याप्त कटौती होनी चाहिए और लोगों को कम हुए दामों का लाभ जरूर मिलना चाहिए।”
इसमें कहा गया है कि भारत ने अपनी तेल जरूरतों का 85 फीसदी आयात किया है और इसलिए कच्चे तेल की अंतर्राष्ट्रीय कीमत का घरेलू बाजार में पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर सीधा असर पड़ा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here