Income Tax नोटिस के बाद आप के समर्थन में आए लोग,आगे भी चंदा देते रहेंगे

221

Income tax notice to AAP

अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी को मिले इनकम टैक्‍स विभाग के नोटिस के बाद एक बार फिर भ्रष्‍टाचार और चंदे की बहस छिड़ गई है. इनकम टैक्‍स विभाग की ओर से जहां पार्टी पर 30 करोड़ 67 Lakh रुपये का नोटिस भेजा है, वहीं अरविंद केजरीवाल सहित अन्‍य लोग भी इसे राजनीतिक बैर करार दे रहे हैं.

खुद दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा है कि भारत के इतिहास में पार्टी को मिले सभी चंदे अवैध घोषित किए गए हैं. जबकि इन सभी खातों को खाता-बही में दिखाया गया है. यह राजनीतिक प्रतिशोध की पराकाष्‍ठा है.

In the history of India, ALL donations to a political party have been declared illegal. All these were accounted for and shown in books of accounts. This is height of political vendetta.

वहीं अरविंद केजरीवाल के समर्थन में दीप प्रकाश्‍ा पंत नाम के शख्‍स ने कहा कि वे अपनी पॉकेट मनी बचाकर आम आदमी पार्टी को चंदा देते हैं.

View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter
मैं @AamAadmiParty और @ArvindKejriwal को इस देश में स्वच्छ राजनीति की उम्मीद को जिन्दा बनाये रखने के लिए अपनी पॉकेट मनी से पैसे बचाकर चंदा देता हूँ!
कोई कैसे इस पैसे को गैरकानूनी बता सकता है????

 

Who fund AAP, Clean political funding, Income tax notice to AAP, Aam aadmi party, Indian Political funding.

आम आदमी पार्टी , रैली, प्रतीकात्मक तस्वीर (PTI)
विकास केडिया का कहना है कि वे मेहनत से कमाकर आम आदमी पार्टी को चंदा देते हैं इसे अवैध घोषित करके दिखाएं.
View image on TwitterView image on TwitterView image on TwitterIncome tax notice to AAP, Aam aadmi party, Indian Political funding.
I have donated my hard earned money to @AamAadmiParty.
Prove it illegal.
The more you play vindictive politics, The more you bring us closer to @ArvindKejriwal.
वहीं विवके गुप्‍ता ने कहा कि वे आगे भी चंदा देते रहेंगे.
जब आन्दोलन शुरू हुआ था तब से पूरी लगन से देश बचाने के लिए अपना योगदान दे रहा हूँ, आज घर चलाना मुश्किल हो गया तो नौकरी ज्वाइन करनी पड़ी, इस महीने मेरी जिंदगी की पहली सैलरी आएगी, मैं उसमे से पार्टी को डोनेशन दूंगा, .@ArvindKejriwal आप इन भ्रष्टाचारियों के खिलाफ जंग जारी रखिये|
✊✊
बता दें कि अरविंद केजरीवाल की AAP  के चंदे में अनियमितता को लेकर ‘AAP’ को आयकर विभाग ने 30 करोड़ 67 लाख रुपये का नोटिस भेजा है. पार्टी पर आरोप है कि उसने 2014 में अपने चंदे को लेकर जो सूचनाएं विभाग को दीं वो सही नहीं थीं.
आयकर विभाग ने AAP ने पूछा है कि क्यों ने उससे ये रकम वसूली जाए. आयकर विभाग ने आम आदमी पार्टी से 7 दिसंबर तक जवाब मांगा है.बता दें कि आम आदमी पार्टी ने 26 नवंबर को पांच साल पूरे किए हैं. इस मौके पर पार्टी ने रामलीला मैदान पर इसका जश्न भी मनाया. लेकिन इसके अगले ‌ही दिन पार्टी पर भ्रष्टाचार के एक मामले में ही आयकर विभाग ने नोटिस भेज दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here