Election Commision ने खारिज की ‘आप’ की मांग, ईवीएम के मदरबोर्ड से छेड़छाड़ की इजाज़त देने को कहा था

771

नई दिल्ली:भारतीय चुनाव आयोग ने इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) को हैक करने से जुड़ी चुनौती के दौरान उसके मदरबोर्ड से छेड़छाड़ करने की अनुमति देने की आम आदमी पार्टी की मांग को 25 मई को खारिज कर दिया. चुनाव आयोग ने कहा कि मशीन के आंतरिक सर्किट(मदरबोर्ड) में परिवर्तन करने से मशीन अपनी मौलिकता खो देगी.

ईसी ने कहा कि मदरबोर्ड में परिवर्तन करने से मशीन अपनी मौलिकता खो देगी….

आम आदमी पार्टी ने 24 मई को आयोग से ईवीएम चुनौती के दौरान किसी तरह का दिशा-निर्देश तय नहीं करने को कहा, क्योंकि पार्टी का मानना है कि मशीन को हैक करने की साजिश रचने वाला व्यक्ति चुनाव आयोग द्वारा तय किसी नियम का पालन नहीं करेगा.चुनाव आयोग की ईवीएम हेकाथन में सात राष्ट्रीय और 48 क्षेत्रीय दल तीन जून को प्रस्तावित चुनौती में हिस्सा लेंगे.

ईवीएम को हैक करने की चुनौती का राजनीतिक दलों को भेजा गया आमंत्रण…..

चुनाव आयोग ने ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतों के मद्देनजर सभी मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों को ईवीएम हैक करने की चुनौती देते हुये ऐसा कर दिखाने को आमंत्रित किया है. चुनाव आयोग के एक अधिकारी ने 23 मई को बताया कि ईवीएम को हैक करने की 3 जून से शुरू हो रही चुनौती के लिये सभी सात राष्ट्रीय दलों और 48 राज्य स्तरीय दलों को आमंत्रित किया गया है. गत 20 मई को आयोग ने ईवीएम में गड़बड़ी करने के राजनीतिक दलों के आरोपों को खुली चुनौती दी थी.

इलेक्शन कमिशन ने हाल ही में पंजाब और उत्तरप्रदेश सहित पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में ईवीएम के साथ छेड़छाड़ करने की कुछ राजनीतिक दलों की शिकायतों के आधार पर दलों को खुली चुनौती देने का फैसला किया है. शनिवार को आयोग ने इन पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में हिस्सा लेने वाले राजनीतिक दलों को ही ईवीएम में गड़बड़ी करने के दावे को सही साबित करने की चुनौती में शामिल होने की अनुमति दी थी. हालांकि अब आयोग ने सभी मान्यता प्राप्त दलों को इसमें शामिल होने का आमंत्रण भेजा है.

अधिकारी ने बताया कि चुनौती स्वीकार करने वाले दल को पांच राज्यों के किसी भी मतदान केन्द्र पर इस्तेमाल की गयी ईवीएम को हैक करने की छूट होगी. ऐसे दल अपनी मर्जी से कोई चार ईवीएम चुन सकेंगे. इन्हें हैक करने के लिये चार घंटे का समय दिया जायेगा. चुनौती में शामिल होने वाला दल अपने तीन प्रतिनिधि मशीन को हैक करने के लिये भेज सकेगा. हालांकि चुनौती के लिये राजनीतिक दलों को विदेशी प्रतिनिधि भेजने की छूट नहीं होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here