आजादी के 70 साल बाद भी यूपी के इस गांव में एक भी मैट्रिक पास लोग नहीं, गुस्साए ग्रामीणों ने मुख्य सड़क पर लगाया ‘जागो नेता जागो, सुनो प्रशासन सुनो’ का बोर्ड…

ग्रामीणों ने मुख्य सड़क पर लगाया सूचना पट्ट “जागो नेता जागो, सुनो प्रशासन सुनो” ग्रामीणों का दर्द आजादी के 70 साल बाद नहीं हुआ कोई विकास, एक भी मैट्रिक पास नही है गोश्लावर में, डीएम ने कहा गंभीर समस्या, जल्द पदाधिकारीयों को भेज समुचित विकास का होगा प्रयास

244

लखनऊ। जिला मुख्यालय से महज 3 किलोमीटर एवं जिला मुख्यालय के सबसे निकटतम बहादुरपुर प्रखंड के गृह, ग्राम पंचायत बहादुरपुर देकुली के वार्ड संख्या 10 ग्राम गोशलावर के ग्रामीणों ने मुख्य सड़क पर “जागो नेता जागो, सुनो प्रशासन सुनो” नाम का सूचना पट्ट लगाकर प्रशासनिक महकमे का ध्यान अपनी तरफ खींच रहा है।

गोशलावर ग्रामीणों ने प्रशासन को दिखाया रास्ता…

इस मुहिम में गोशलावर ग्रामीणों का नेतृत्व कर रहे सुनील सहनी ने बताया कि जिला व प्रखंड मुख्यालय के समीप होने के बाद भी आजादी के 70 साल बाद इस गोशलावर गांव में कोई विकास नहीं हुआ है। न कोई हॉस्पिटल, न कोई स्कूल, न सड़क, न कोई सुविधा। शायद नेता व प्रशासन के दस्तावेज से इस गोशलावर गांव का नाम मिट गया है, इसलिए मुख्य सड़क पर “जागो नेता जागो, सुनो प्रशासन सुनो” नाम का सूचना बोर्ड लगाकर गोशलावर गांव की ओर सभी का ध्यान आकर्षित कराया गया है। सुनील ने आगे बताया कि लम्बी दूरी तय कर हम लोग तो दूसरी-तीसरी तक पढ़ लिया मगर गांव में शिक्षा की ज्योति जलाने की कोई साधन नही होने से भावी पीढ़ी की चिंता सताती है।

गोशलावर
गोशलावर ग्रामीणों ने मुख्य सड़क पर लगाया ‘जागो नेता जागो, सुनो प्रशासन सुनो’ का बोर्ड

ज्ञात हो कि गोशलावर एक ऐसा गांव है जहां आजादी के 70 वर्ष बाद भी एक भी मैट्रिक पास लोग नहीं है। पहली बार गांव की चार बेटियां इस बार मैट्रीक की परीक्षा में बैठ इतिहास रचने की तरफ अग्रसर है। इस गांव में आंगनवाड़ी केंद्र, कोई भी विद्यालय, स्वास्थ्य केंद्र, सामुदायिक भवन, गांव आने जाने वाली बारहमासी सड़क तक की भी सुविधा नहीं है।
इस मुहिम को लेकर राष्ट्रीय सहारा ने समस्या मूलक खबरों को प्रकाशित कर मीडिया, जनप्रतिनिधि व प्रशासन का ध्यान गांव की ओर आकर्षित किया था। मगर 3 माह बीत जाने के बाद भी किसी का भी सार्थक पहल समस्या समाधान के लिये नहीं हो सका। अब अजीज हो ग्रामीणों ने बहेरी दरभंगा मुख्य सड़क पर बहादुरपुर मोड़ के पास इस प्रकार का बोर्ड लगाकर सभी का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया है।
मामले के संबंध में जब जिला पदाधिकारी डॉ चंद्रशेखर सिंह को जानकारी देकर पूछा गया तो उन्होंने गांव के प्रति चिंता जाहिर करते हुए बताया कि यह समस्या गंभीर है, कल ही पदाधिकारियों को वहां भेजकर गांव के समस्या पर जांच कराई जाएगी और जिला प्रशासन से जो भी संभव हो सकेगा अभिलंब पूर्ण किया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here