सूबे की सियासत में गहलोत ने राजनेतिक कार्यक्रम में शिरकत करने के लिये शेखावाटी के नवलगढ़ का दौरा किया,आगे क्या हुआ देखे

1417

झूंझूनु। 13 अगस्त
पूर्व मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत रविवार को नवलगढ़ दोरे पर रहे। बेहद जटिल परिस्थियों में गुजरात के राज्यसभा चुनावों में अपनी कांग्रेस पार्टी के प्रत्यासी को चुनाव में विजय दिलाने के बाद पहली बार राजस्थान के किसी राजनेतिक एवं सार्वजानिक कार्यक्रम में शिरकत करने के लिये रविवार को नवलगढ़ पहुचे अखिल भारतीय कांग्रेस कमेठी महासचिव और गुजरात कांग्रेस के प्रभारी अशोक गहलोत। अशोक गहलोत का सैकडो मोटर साइकलों पर सवार पार्टी कार्यकर्त्ता, दर्जनों गाड़ियों का काफिला, कांग्रेस का दुपट्टा लिए स्वागत के लिए लालायित लोग,
बुलंद आवाज में लगाते नारे…..
“कहो दिल से-गहलोत फिर से”
“डॉ राजकुमार शर्मा जिंदाबाद -जिंदाबाद”
ऐसे ही कुछ नज़ारे थे, पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नवलगढ़ आगमन पर।

पूर्व मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत कल नवलगढ जाते समय कुछ देर के लिए सीकर रुके। श्री गहलोत जयपुर से कार से रवाना होकर नवलगढ पहुंचे, जहां वे सावित्री बाई फुले की प्रतिमा का अनावरण कर आमसभा को सम्बोधित किया।
सीकर में पूर्व मंत्री सुभाष महरिया और महादेव सिंह काजला भी गहलोत के दोरे में सक्रिय होकर सरगोठ में स्वागत किया।
पुर्व मंत्री और नवलगढ़ विधायक डॉ राजकुमार शर्मा का बड़ा सियासी कद, पूरे नवलगढ़ वासी उमड़े स्वागत में।

वापस लोटती गाडियो के उड़ते धूल के गुब्बार के बीच नवलगढ़ के रामसा पीर मंदिर के बाहर बेठा बुजुर्ग कह रहा हैं ई झुंझनू में तो अबकी बार केवल विधानसभा ही नहीं लोकसभा में भी समीकरण दूसरा ही होवगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here