कथित फर्जी NSDB भर्ती विज्ञापन संबंधी

2616

Home

(Logo used at the website)

इस नाम से एक वेबसाइट पर भर्ती निकाली गयी है जिसमे कि काफी संख्या में पद बताये गये है लेकिन जानिये इसकी सच्चाई कि क्या ये भर्ती वास्तव में असली है या फिर ये भी फर्जी है |

द्वारा – अजय (सूचना का अधिकार कार्यकर्ता)

Image may contain: 1 person

मेरे अनुसार ये विज्ञापन फर्जी है जिसके विभिन्न आधार जोकि मेरी जानकारी के अनुसार इसको फर्जी ठहराने में काफी है वे सभी साक्ष्य यहाँ लिखित तथा फोटो सहित पेश है |

1. इसकी वेबसाइट में ज्यादा बड़ी गडबड नही है लेकिन एक छोटी सी बारीक गडबड है जोकि बहुत बड़ा फर्क कर देती है , वो है डॉट (.) (DOT) , यानी इसकी वेबसाइट में nsdb के बाद डॉट नही है और सीधा उसी के साथ gov लिखा है जबकि हमेशा इनमे डॉट होता है |

No automatic alt text available.

2. ये राजगढ़ जिला चुरू राजस्थान से बनी हुई वेबसाइट है (वैसे ये दो अलग अलग वेबसाइट है जिनको आपस में जोड़ा गया है) निर्माता है भाई सोमवीर सिंह , उनके फोन न. , वास्तविक ईमेल आदि भी फोटो में पेश है (वैसे ये सब सम्पर्क माध्यम बंद मिलेंगे)

No automatic alt text available.

No automatic alt text available.

3. इन्होने क्लर्क के 3280 पद बता रखे है, जरा सोचिये इस साल की SSC  क्लर्क भर्ती में विभिन्न विभागों/मंत्रालयों को मिला के 3500 के करीब पद है तो फिर ये अकेला विभाग इतने क्लर्क कहाँ बैठाएगा |

Image may contain: 1 person

4. इनकी ईमेल id में भी वही डॉट (.) वाली हेराफेरी है |

Image may contain: text

5. जब आप रिक्रूटमेंट वाली लिंक (http://www.nsdbonline.com/Recruitment.aspx) पर क्लिक करते है तो एक दुसरे पेज पर साईट आपको पहुंचा देती है जोकि . com लिंक है , सामान्यत: ऐसा नही होता है कि सरकारी एजेंसी . com का इस्तेमाल करें क्योंकि सरकारी वेबसाइट NIC द्वारा बनाई जाती है जोकि सरकारी एजेंसी है नाकि प्राइवेट |

No automatic alt text available.

6. वेबसाइट ज्यादा पुराणी नही है | यदि ये विभाग वास्तव में होता तो क्या अभी वेबसाइट बनवाता ?? और अगर विभाग है भी तो इसने go daddy नामक प्राइवेट फर्म से डोमेन क्यों लिया जबकि ये कार्य NIC का है |

Image may contain: text

इन सब को देख कर साफ़ पता लगाया जा सकता है कि कैसे सरकारी नाम का दुरुपयोग करके बेरोजगारों को ठगने का प्रयास किया जा रहा है, ये पहली बार नही हो रहा है ऐसा पहले भी हो चूका है , सरकार और संबंधित विभाग साथ ही उस मंत्रालय को इसके उपर कठोर कारवाई करनी चाहिए , साथ ही हमे भी सावधानी बरतनी चाहिए ताकि लोग इसका शिकार ना बने |

अतः कृपया झांसे में ना आयें / सभी फोटो देखें ध्यान से और भविष्य में भी सतर्क रहें |

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here