पंजाब:AAP नेता गुरप्रीत सिंह घुग्गी ने आम आदमी पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से दिया इस्तीफा

742

आम आदमी पार्टी में जारी घमासान अभी थमने का नाम नहीं ले रहा है। पंजाब विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को उम्मीद के मुताबिक सफलता नहीं मिलने के बाद एक और झटका लगा है। पंजाब में आम आदमी पार्टी के पूर्व संयोजक गुरप्रीत सिंह घुग्गी ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। आम आदमी पार्टी में जारी आंतरिक कलह अभी थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसका नया उदाहरण उस समय देखने को मिलता जब आम आदमी पार्टी के नेता और पंजाब के पूर्व संयोजक गुरप्रीत सिंह घुग्गी ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देने का ऐलान कर दिया। उन्होंने आम आदमी पार्टी का साथ उस समय छोड़ा हैं जब भगवंत मान को ‘आम आदमी पार्टी पंजाब’ का नया संयोजक बनाया गया हैं।
गुरप्रीत सिंह घुग्गी ने आम आदमी पार्टी छोड़ने के ऐलान के दौरान कहा कि वो पंजाब चुनाव में पार्टी की ओर से ‘स्टार कैंपेनर’ बनना चाहते थे लेकिन आप पार्टी ने उन्हें ‘संयोजक’ बना दिया। उन्होंने कहा कि मैंने कई बार पंजाब प्रभारी संजय सिंह और पार्टी के शीर्ष नेताओं से कई बार कहा था कि सुच्चा सिंह छोटेपुर को आम आदमी पार्टी में वापस लाया जाए लेकिन मेरी आवाज को किसी ने नहीं सुना। उन्होंने आगे कहा कि मैं लगातार कह रहा था कि मुझे पार्टी की ओर से प्रचार करने के लिए भेजा जाए लेकिन मेरी किसी ने भी नहीं लेकिन मुझे लगातार पार्टी संगठन के मामले दिए जाते रहे।
माना जा रहा है कि भगवंत मान को पंजाब में आम आदमी पार्टी का संयोजक बनाए जाने से गुरप्रीत सिंह घुग्गी नाराज थे। उन्होंने दावा किया कि मैंने कई बार आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल को चेताया था कि प्रभारी संजय सिंह और दुर्गेश पाठक को चुनाव के दौरान पंजाब का प्रभारी बनाना गलत फैसला था। उनकी वजह से ही पार्टी की हार हुई लेकिन पंजाब चुनाव के दौरान मेरी किसी ने भी नहीं सुनी। कॉमेडियन से राजनेता बने गुरप्रीत सिंह घुग्गी ने जमकर आम आदमी पार्टी के फैसलों पर सवाल खड़े किए और पार्टी से इस्तीफे की वजह बताया।

Gurpreet Singh Ghuggi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here