पेट्रोल-डीजल कीमतों को लेकर कांग्रेस ने निकली ऊंट गाड़ी और बैल गाड़ियों की रैली

935

जयपुर. बढ़ती हुई महंगाई एवं कच्चे तेल के दाम अंतराष्ट्रीय स्तर पर कम होने के बावजूद बढ़ाई गए पेट्रोल-डीजल के दामों के खिलाफ कांग्रेस ने अब सड़कों पर मोर्चा खोल दिया है| जयपुर शहर कांग्रेस कमेटी ने मंगलवार को मार्च निकालकर विरोध प्रदर्शन किया गया।
महंगाई के विरोध में निकली रैली में पर्यावरण सुरक्षा का दिया संदेश….
जयपुर में शहर कांग्रेस कमेटी द्वारा कच्चे तेल एवं बढ़ती महंगाई को लेकर अपना विरोध दर्ज कराने के लिए बैलगाड़ी, घोड़ागाड़ी, साइकिल रिक्शा, ऊंटगाड़ी सहित अन्य पेट्रोल/डीजल/ईंधन रहित वाहनों से रैली निकाली गई जिसमें कांग्रेस पार्टी के हजारों कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया. महंगाई को मुद्दा बनाने वाली भाजपा सरकार को अपना चुनावीं वादा याद दिलाते हुए पीसीसी चीफ सचिन पायलट ने कहा कि महंगाई का वादा बनाने वाली मुद्दा बनाने वाली बीजेपी आज अपने वादों से कैसे मुकर सकती है? बीजेपी सरकार पेट्रोल-डीजल की कीमतें कम कर आमजन को राहत पहुंचाए. यही हमारे कांग्रेस संगठन की मांग है. कांग्रेस पार्टी जब तक महंगाई काबू में नहीं आ जाती तब तक लगातार प्रदर्शन जारी रखेंगे और इसी कड़ी में आगामी 28 सितंबर को प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन कांग्रेस पार्टी करेंगे

आम जन की समस्याओं से अवगत कराने रेली निकाली….
सरकार का ध्यान आकर्षित करने की कोशिश करने के लिये कांग्रेस ने बैलगाड़ी, ऊंटगाड़ी और साइकिल के जरिए रैली निकालते हुए मंगलवार को कलेक्ट्री से लेकर पीसीसी ऑफिस तक रैली निकाली|
खुद पीसीसी चीफ सचिन पायलट ने बैलगाड़ी पर सवार होते हुए रैली का नेतृत्व किया|
जिसमें मकसद था कि पेट्रोल-डीजल के ऐसे ही दाम बढते रहेंगे तो आमजन को इन साधनों को उपयोग में करना पड़ेगा|

पायलट ने कहा कि बीजेपी सरकार ने अपने घोषणापत्र में दोनों से वैट हटाने का वादा किया था, लेकिन सत्ता में आते ही दो बार उल्टे टैक्स बढा दिया| ऐसे में सरकार अपने घोषणापत्र के वादे को पूरा करते हुए वैट हटाकर जनता को राहत दे| रैली के चलते कलेक्ट्रेट से लेकर एमआई रोड तक वाहनों की लंबी कतारे लग गई, जिससे जनता को भी खासी परेशानी का सामना करना पड़ा| इस मौके पर शहर कांग्रेस जयपुर जिलाध्यक्ष प्रताप सिंह और प्रभारी मास्टर भंवरलाल मेघवाल भी मौजूद रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here