दिल्ली सचिवालय में हुई मीटिंग में केजरीवाल ने मेयर से कहा, आपके नगर निगम में भ्रष्टाचार

776

दिल्ली सचिवालय में पार्किंग माफिया, होर्डिंग-विज्ञापन माफियाओं और सफाई कर्मचारियों के वेतन पर चर्चा हुई

दिल्ली

गुरुवार को दिल्ली सचिवालय में सीएम अरविंद केजरीवाल और ईस्ट दिल्ली मेयर नीमा भगत के बीच मुलाकात हुई। दोनों (केजरीवाल और नीमा भगत) के बीच फंड को लेकर बातचीत हुई। बताया जा रहा है कि इस दौरान दोनों के बीच काफी गहमागहमी भी देखने को मिली। सूत्रों के मुताबिक मिली जानकारी के अनुसार सीएम केजरीवाल ने फंड को लेकर मेयर नीमा भगत से कई सवाल पूछे।

केजरीवाल और नीमा भगत के बीच सफाई कर्मचारियों का वेतन और एमसीडी में फंड की कमी पर चर्चा…

जानकारी के अनुसार सीएम केजरीवाल ने ईस्ट दिल्ली मेयर नीमा भगत को बताया कि “दिल्ली सरकार ने मौजूदा वित्त आयोग के तहत जारी किया जाने वाला फंड नगर निगम को पहले ही दे दिया है। मैंने (केजरीवाल) एमसीडी के खातों को देखा है। ईस्ट दिल्ली नगर निगम में बहुत ज्यादा भ्रष्टाचार है और आर्थिक रुप से मजबूत बनाने के लिए ईस्ट दिल्ली में भ्रष्टाचार पर रोक लगाना बहुत जरुरी है।”

दिल्ली में पार्किंग माफिया और होर्डिंग-विज्ञापन माफिया पर पाबंदी लगे…

इतना ही नहीं पार्किंग माफिया, होर्डिंग और विज्ञापन माफियाओं का भी जिक्र हुआ और उन्होंने मेयर से कहा कि पूर्वी दिल्ली में अवैध पार्किंग और होर्डिंग की समस्या को दूर किया जाना चाहिए। सीएम ने मेयर को सलाह भी दी कि अगर ऐसा किया गया तो इस नगर निगम का रेवेन्यू कई गुना बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि ईस्ट नगर निगम के पास आय के लिये बहुत बड़ा स्रोत है लेकिन भ्रष्टाचार के चलते इसकी वित्तीय स्थिति बहुत बुरी तरह से लड़खड़ा हुई है।

 सफाई कर्मचारियों के वेतन पर चर्चा….

सीएम अरविंद केजरीवाल ने मेयर से सफाई कर्मचारियों के वेतन को लेकर भी कई सवाल किए, पूछा कि सफाई कर्मचारियों को वेतन क्यों नहीं दिया गया? आपको बता दें कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार और तीनों एमसीडी में भाजपा का कब्जा है, ऐसे में विकास कार्यों को लेकर दोनों के बीच अक्सर टकराव की स्थिति देखने को मिलती है। एमसीडी, दिल्ली सरकार पर काम करने का आरोप लगाती है तो वही दिल्ली सरकार (आम आदमी पार्टी सरकार) के नेता नगर निगम पर फंड का इस्तेमाल सही तरीके से नहीं करने का आरोप लगाते रहते हैं।

East MCD Mayor Neema Bhagat

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here