‘अपनों’ की वापसी पर सख्त कमलनाथ, ‘दूसरों’ के लिए खोला दरबार

पार्टी छोड़कर गए किसी भी नेता की घर वापसी मुश्किल, कमलनाथ ने पैराशूट एंट्री वाले नेताओं को लेकर भी निर्देश जारी किए है

325

भोपाल : कांग्रेस के मध्यप्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने पार्टी में पैराशूटों की एंट्री को लेकर सख्त कदम उठाया है। कमलनाथ के नए निर्देशों के मुताबिक कांग्रेस पार्टी छोड़कर गए किसी भी नेता की घर वापसी अब मुश्किल होगी, साथ ही कमलनाथ ने पैराशूट एंट्री वाले नेताओं को लेकर भी निर्देश जारी किए है।

पैराशूट की एंट्री के लिए जिला कांग्रेस इकाई की अनुमति जरुरी…

कमलनाथ के नए निर्देशों के मुताबिक अब बिना जिला इकाई की अनुमति के किसी भी नेता की एंट्री मुश्किल होगी, यानि अगर जिला कमेटी किसी नेता की वापसी या एंट्री पर आपत्ति जताती है तो उस नेता को कांग्रेस पार्टी में किसी भी शर्त पर शामिल नहीं किया जाएगा। कमलनाथ के निर्देशों के बाद अब कांग्रेस पार्टी में पुराने नेताओं की एंट्री मुश्किल हो गई है।

दरअसल, चुनाव में आखिरी समय में नए नेताओं या कार्यकर्ताओं की एंट्री कराकर टिकट देने के मामले में स्थानीय कार्यकर्ता बड़े पैमाने पर नाराज़ होते है। इस नाराज़गी से बचने और जिला इकाई का उत्साह बढ़ाने के लिए कमलनाथ ने निर्देश जारी किए है।

बागियों से दूरी बनायेंगी कांग्रेस…

हालांकि इसका पालन कितना होता है देखना होगा। कांग्रेस ने साफ किया है कि 5 साल तक जिन नेताओं ने लोकल लीडरशिप से झगड़ा किया, उन्हें परेशान किया है, उनकी घर वापसी से कार्यकर्ताओं का उत्साह कम होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here