कानपुर में पेडल सर्विस का परीक्षण, साइकिल भी किराए पर देंगे ओला जैसे स्टार्टअप

344

बेंगलुरु– टैक्सी और ऑटो-रिक्शा, मोटरसाइकिल के बाद, कैब एग्रीगेटर ओला अब पर्यावरण के अनुकूल परिवहन के साधनों को बढ़ावा देने के लिए देश में विभिन्न परिसरों पर साइकिल किराए पर देने की योजना शुरू कर सकती है। बेंगलुरु स्थित स्टार्टअप द्वारा पोस्ट की गई एक वीडियो के मुताबिक, ओला कैब पेडल का इस्तेमाल “कॉलेज के परिसरों, कॉरपोरेट पार्कों या आवासीय परिसरों के भीतर” दूर तक चलने के लिए किया जा सकता है”।

हाल ही में ओला ने आईआईटी कानपुर में साइकिल किराए पर देने की सेवा पेडल का परीक्षण शुरू किया है। ओला के अलावा कुछ अन्य स्टार्टअप कंपनिया भी साइकिल किराए पर देने की योजना को जमीन पर उतारने की तैयारी कर रहे हैं। हालांकी अन्य देशों में असफल होने और साइकिल चोरी होने की घटनाओं के कारण इस बिज़नेस पर सवालिया निशान भी खड़े हुए हैं।

ओला के प्रवक्ता ने कहा, “हम विभिन्न परिसरों में ओला पेडल का संचालन कर रहे हैं, शुरूआत करने के लिए। साइकिलें हमारे शहरों में पहले और अंतिम मील गतिशीलता की जरूरतों को पूरा करने के लिए एक स्थायी और कुशल विकल्प हैं।”

उपयोगकर्ता ऐप पर ओला साइकिल की खोज और एक सवारी बुक कर सकते हैं। आधार/क्यूआर कोड का उपयोग करते हुए, उपयोगकर्ता खुद को प्रमाणित कर सकते हैं और इन मेड इन साईकिल को अनलॉक कर सकते हैं और अपने गंतव्य तक पहुंचने पर इसे फिर से लॉक कर सकते हैं।

ओला कैब के बारे में अधिक जानने के लिए, देखें……

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here