आम आदमी के हक के लिए आम आदमी के साथ और मुलभूत सिद्धांतो के साथ लड़ा जाएगा राजस्थान में चुनाव: डोटासरा

785

दिल्ली में आम आदमी पार्टी राजस्थान प्रभारी कुमार विश्वास ने राजस्थान के सभी संभाग और लोकसभा प्रभारियों , जिला स्तर प्रभारियों के अलावा सभी आप विंग की मीटिंग ली। जिसमें झुंझुनू से आप नेता विजेंद्र सिंह डोटासरा ने अपने संबोधन में कहा कि राजस्थान प्रदेश की जनता एक नए विकल्प की तलाश में है वर्तमान सरकार अपने घोषणा-पत्र में किए गए वादों से मुकर चुकी है और दूसरी तरफ जो काम शिक्षा स्वास्थ्य बिजली एवं पानी पर दिल्ली सरकार ने महत्वपूर्ण काम किया है, उसकी बदौलत जनता आम आदमी पार्टी को एक विकल्प के तौर पर राजस्थान में देखना चाहती है। हम हमारे (आप राजस्थान) संगठनात्मक ढांचे को मजबूत कर पूरे जोर-शोर के साथ जनता की आवाज बनकर उभरेंगे और राजस्थान को एक नया विकल्प देंगे ।

2018 में आप बनेगी विकल्प….

आप झुंझुनू लोकसभा प्रभारी विजेन्द्र डोटासरा ने राजस्थान के सभी लोकसभा प्रभारियों और जिला स्तर के प्रभारियों को आप राजस्थान प्रभारी कुमार विश्वास के सामने सम्बोधित करते हुए कहा कि राजस्थान जनता कांग्रेस-बीजेपी से ऊब चुकी है ।और अब राजस्थानियों को आप पर विश्वास हैं कि अब आम आदमी का दर्द केवल आम आदमी ही समझ सकता है।

आप लड़ेगी किसानों की लड़ाई…

देशभर में किसानों के हित के लिये आम आदमी पार्टी कर्जमाफी के लिये मेदान में उतरेगी, दिल्ली में हुई कुमार के साथ मिटींग में तय हुआ की राजस्थान की जनता के हित की लड़ाई राजस्थान के लोग ही लड़ेंगे इसमें दिल्ली से कोई दखल नहीं देगा।

आप किसी नेता पर निजी वार नहीं करेगी,बल्की मुद्दों पर चुनाव लड़ेगी….

आप राजस्थान प्रभारी कुमार विश्वास ने कहा कि राजस्थान में आप “बेक टू बेसिक्स” की नीति पर काम कर,  आगामी दिनों में पार्टी उन मुद्दों को फोक्स करेंगी जहां से शुरूवात हुई थी।  आप किसी पार्टी पर निजी वार नहीं कर चुनाव क्षेत्रिय मुद्दों पर लड़ेगी।

 

शीघ्र ही प्रदेश टीम काम गठन होगा….

कुमार ने कहा कि जल्द ही राजस्थान प्रदेश टीम का गठन, राजस्थान के सभी कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर करेंगे। संगठन में कार्यकर्ता जोड़ने वाले को ही प्राथमिकता मिलेगी।  पूर्व राजस्थान आप प्रभारी और दिल्ली उपमुख्यमंत्री मनिष सिसोदिया ने सभी को अभी से चुनाओं की तेयारियों में जुटने के लिये कहा।

बेठक की मुख्य बाते..
  • राजस्थान में पार्टी उन सिध्दांतो पर लोटेगी जहा से चली थी।
  • राजस्थान का चुनाव नकारात्मकता का नहीं होगा, आप किसी को हराने के लिये नहीं लड़ेगी चुनाव बल्की मुद्दों पर।
  • आप पार्टी की तेयारी में 3 चरण होंगे- संगठन, संदेश और सियासत।
  • दिल्ली से नियुक्त किसी भी प्रभारी और पर्यवक्षक की फोटों पार्टी के बेनरों, पंपलेट, पोस्टरों और सोशल मीडिया पेज पर नहीं होकर क्षेत्रिय कार्यकर्ताओं की होंगी।
  • राजस्थान में संगठन की संरचना का पिरामिड नीचे से ऊपर बनेगा, नीचे के कार्यकर्ता ही ऊपर के पदाधिकारी चुनेंगे।
  • राजस्थान विधानसभा चुनाओं में दिल्ली से हस्तक्षेप न्यूनत्तम होंगी यानी ना के बराबर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here