ई गवर्नेंस के लिए ‘चीफ मिनिस्टर ऑफ द ईयर‘ अवार्ड मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को भेंट

चुनावी साल में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को दिल्ली से मिला बड़ा तोहफा, ई-गवर्नेंस के क्षेत्र में बेहतर काम करने पर सीएम वसुंधरा राजे को कांस्टीटयूशन क्लब के मावलंकर सभागार में आयोजित 52वें स्कॉच समिट ‘वन नेशन वन प्लेटफॉर्म‘ कार्यक्रम में ‘चीफ मिनिस्टर ऑफ द ईयर‘ अवार्ड मिला

752

जयपुर। राजस्थान प्रदेश में राज्य सरकार के सहयोग से पिछले साढ़े चार सालों में ई-गवर्नेंस समेत अन्य सभी क्षेत्रों में नवाचार के लेन के लिए जमकर काम हुआ है। इसीलिए उल्लेखनीय कार्य के लिए राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे को हाल ही में चीफ मिनिस्टर ऑफ द इयर चुना गया। सीएम राजे को यह सम्मान 23 जून शनिवार को नई दिल्ली के कांस्टीटयूशन क्लब के मावलंकर सभागार में केन्द्रीय इस्पात मंत्री चौधरी वीरेंद्र सिंह के मुख्य आतिथ्य में आयोजित 52वें स्कॉच समिट ‘वन नेशन वन प्लेटफॉर्म‘ कार्यक्रम में प्रदान किया गया। जिसे राजे की अनुपस्थिति में यह अवॉर्ड मुख्यमंत्री सलाहकार परिषद के विशेषाधिकारी डॉ अनुज सक्सेना एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के संयुक्त निदेशक आर एल सोलंकी ने स्कॉच ग्रुप के चेयरमैन श्री समीर कोचर से ग्रहण किया।

 

दिल्ली के कांस्टीटयूशन क्लब के मावलंकर सभागार में आयोजित स्कॉच समिट ‘वन नेशन वन प्लेटफॉर्म‘ समारोह में केंद्र सरकार के डिजीटल इंडिया कार्यक्रम को गवर्नेंस के क्षेत्र में बेहतर ढंग से लागू करने तथा गांव-ढाणी में बैठे आम व्यक्ति को लाभान्वित करने के लिए किए जा रहे अभिनव प्रयोग के लिए राज्य सरकार के प्रयासों को सराहा गया।

26 जून 2018 को प्रमुख शासन सचिव सूचना प्रौद्योगिकी श्री अखिल अरोरा ने सीएम निवास पर सीएम राजे को भेंट किया यह ‘चीफ मिनिस्टर ऑफ द ईयर‘ अवार्ड। इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री डीबी गुप्ता और पुलिस महानिदेशक श्री ओपी गल्होत्रा भी मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि श्रीमती राजे के नेतृत्व में ई-गवर्नेर्ंंस के क्षेत्र में राजस्थान आज देश का अग्रणी राज्य बन गया है। भामाशाह योजना, भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, ई-मित्र, सीएम हैल्प लाइन, बिग डाटा एनालिटिक्स, ई-ज्ञान, ई-संचार, ई-मंडी, राजकाज, राज नेट, राज ई-वैलेट, ई-मित्र प्लस, अभय कमांड सेंटर आदि के जरिए लोगों को लोक सेवाओं की त्वरित डिलीवरी संभव हुई है। सीएम राजे की पहल पर हुए इन नवाचारों तथा उपलब्धियों के लिए उनको यह सम्मान शनिवार को नई दिल्ली में आयोजित 52वें स्कॉच समिट ‘वन नेशन वन प्लेटफॉर्म‘ में प्रदान किया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here