पुस्तक कड़वे प्रवचन के नौवें भाग का लोकार्पण बीमारी का अंत कड़वी दवा से, बुराई का अंत ‘कड़वे प्रवचन’ से- मुख्यमंत्री

1579

सीकर 20 अगस्त। राजस्थान मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे रविवार को सीकर के विद्या विहार में जैन स्कूल में दिगम्बर जैन मुनि तरुणसागर जी की पुस्तक ‘कड़वे प्रवचन‘ के नौवें भाग का लोकार्पण करने के बाद उपस्थित श्रद्धालुओं को संबोधित कर रही थीं। मुख्यमंत्री ने 14 भाषाओं में अनुदित और 7 लाख प्रतियों के साथ गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज इस पुस्तक को सभी के लिए प्रेरणादायी बताते हुए कहा कि पुस्तक में जो छोटी-छोटी बातें कही गई हैं वे जीवन में बड़ा महत्व रखती हैं।

बुराई का अंत ‘कड़वे प्रवचन’ से.....

श्रीमती राजे ने कहा है कि जिस प्रकार शरीर को रोगमुक्त करने के लिए कड़वी दवा लेनी जरूरी है। वैसे ही साधु-संतों के कड़वे प्रवचनों को आत्मसात् कर हम अपने जीवन में बुराइयों को जड़ से दूर कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि क्रांतिकारी राष्ट्रसंत दिगम्बर जैन मुनि तरुणसागर जी अपने कड़वे प्रवचनों के जरिए समाज को नई दिशा देने का महत्वपूर्ण काम कर रहे हैं।

सेवा करने वाली 5 बहुओं का सम्मान…..

मुख्यमंत्री ने कहा कि संत-महात्मा समाज को सही दिशा देने का काम करते हैं। उनके उपदेशों का अनुसरण कर हम एक स्वस्थ और सुंदर परिवार, गांव, शहर और देश की रचना कर सकते हैं। श्रीमती राजे ने सीकर में चातुर्मास कर रहे मुनि तरुणसागर जी को श्रीफल भेंट कर उनका आशीर्वाद लिया। उन्होंने चातुर्मास समिति की ओर से ऎसी 5 बहुओं का सम्मान किया जो पिछले 15वर्षों से अपने सास-ससुर की नित्य सेवा करती हैं।

आग्रह के बावजूद मंच पर नीचे बैठीं मुख्यमंत्री…..

पुस्तक के लोकार्पण समारोह में मुख्यमंत्री मंच पर नीचे बैठीं। आयोजकों के आग्रह के बावजूद उन्होंने कुर्सी पर बैठने से इन्कार कर दिया और कार्यक्रम समाप्ति तक मंच पर नीचे ही बैठी रहीं।

वसुन्धरा जी जैसी विनम्रता सभी नेताओं में नहीं…..

धार्मिक सभा को संबोधित करते हुए जैन मुनि तरुणसागर जी ने कहा कि मुख्यमंत्री होने के बावजूद श्रीमती वसुंधरा राजे में जो विनम्रता एवं साधु-संतों के प्रति जो अगाध सम्मान है, वैसी विनम्रता सभी नेताओं में नहीं है। उन्होंने कहा कि शिक्षक और जनप्रतिनिधि मिलकर देश में बड़ा बदलाव ला सकते हैं।

सीएम बोली मेरे घर भी आना…..

सीएम वसुंधरा राजे ने तरुण सागर को अपने जयपुर स्थित घर आने का न्योता दिया। उन्होंने मुनी को न्योता देते समय कहा कि चतुर्मास के बाद मेरे जयपुर स्थित घर पर भी आना।

चप्पे-चप्पे पर पुलिस का पहरा….

मुख्यमंत्री के दौरे को लेकर शहर में सुरक्षा व्यवस्था बनाने के लिए पुलिस का चप्पे-चप्पे पर पहरा रहा। शहर से गुजरने वाले बसों को बाईपास से निकाला गया।

जगह-जगह हुआ राजे का स्वागत…..

मुख्यमंत्री वसुंधरा का बीजेपी कार्यकर्ताओं ने मित्तल हॉस्पिटल के पास, श्री कल्याण हॉस्पिटल के सामने और तापड़िया बगीची के पास सहित कई स्थानों पर स्वागत कर अगवानी की।

लीडर और टीचर सुधरे तो बदले देश का भविष्य…..

राष्ट्रीय संत जैन मुनि श्री तरुण सागर ने रविवार को अपने कड़वे वचनों के 9वें संस्करण की पुस्तक का विमोचन करते समय कहा कि देश में लीडर-टीचर को सुधरने की आवश्यकता है। ये दोनों ही आज सुधर जाए तो देश का भविष्य ही बदल जाएगा।
उन्होंने कहा कि अंधों से भी ज्यादा राजनीतिक अंधे होते हैं क्योंकि राजनीतिक अंधों की वजह से पूरे आवाम को नुकसान होता है। आज समाज में सभी खुशियों का खजाना है जो आदमी सेवा करना सीख गया उसे कहीं जाने की आवश्यकता नहीं है।

इस अवसर पर उप जिला प्रमुख शोभसिंह, धोद विधायक गोवर्धन वर्मा, पूर्व जिलाध्यक्ष महेश शर्मा, राज्य बाल संरक्षण आयोग के सदस्य शिवपाल ख्यालिया, भाजपा महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष अनीता शर्मा, उपाध्यक्ष अलका शर्मा, बाबूलाल बागड़ी सीमा अग्रवाल सहित जिले के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

हेलीपेड पर किया भवभीना स्वागत…..

कार्यक्रम से पूर्व पुलिस लाईन परेड ग्राउण्ड पर मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे के पहुंचने पर सांसद सुमेधानन्द सरस्वती, जिले के प्रभारी मंत्री एवं देवस्थान राज्य मंत्री राजकुमार रिणवा, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्यमंत्री बंशीधर बाजिया, जिला प्रमुख अपर्णा रोलन, विधायक रतनलाल जलधारी, विधायक झाबर सिंह खर्रा, नगर विकास न्यास चेयरमैन हरिराम रणवां, भाजपा जिलाध्यक्ष मनोज सिंघानियां, संभागीय आयुक्त राजेश्वर सिंह, महानिरीक्षक पुलिस हेमन्त प्रियदर्शी, जिला कलेक्टर नरेश कुमार ठकराल, पुलिस अधीक्षक विनित कुमार, अतिरिक्त जिला कलेक्टर जयप्रकाश ने गुलदस्ता भेंट कर अगवानी की। राजस्थान पुलिस, आरएसी की टुकड़ी ने मुख्यमंत्री को गार्ड ऑफ ऑनर दिया।


इस अवसर पर मुख्य अभियन्ता विद्युत बी.एम.भामू, उपखण्ड अधिकारी जगदीश प्रसाद गोड, जूही भार्गव, अनिल कुमार महला, सहा.कलेक्टर रामसिंह राजावत सहित जिला प्रशासन व पुलिस अधिकारीगण, विभिन्न विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here