पांच सालों में सचिन नही तलाश पाए ज़मीन, सता रहा अपनों से ही हार का डर – विश्वामित्र बोहरा

आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता इंजी. विश्वामित्र बोहरा ने कांग्रेस नेतृत्व को नाकारा करार देते हुए कहा कि "सचिन पायलट को अपनों से ही हार का डर सता रहा है, इसीलिए वो अपने लिए विकल्प ढूंढ रहे है।"

752
सचिन पायलट
India’s Congress President Rahul Gandhi with Rajasthan Congress President Sachin Pilot during the ‘Sankalp Rally’ at Sangwara in Dungarpur ,Rajasthan,India ,Sept 20,2018.(Photo By Vishal Bhatnagar/NurPhoto via Getty Images) (Photo by Vishal Bhatnagar/NurPhoto via Getty Images)

जयपुरआम आदमी पार्टी राजस्थान के प्रदेश प्रवक्ता इंजीनियर विश्वामित्र बोहरा ने कांग्रेस नेतृत्व को नाकारा करार देते हुए कहा कि सचिन पायलट को अपनों से ही हार का डर सता रहा है, इसीलिए वो अपने लिए पांच सीटों में से विकल्प ढूंढ रहे है। बोहरा ने कहा कि जनता को दिखाने के लिए युवा-बुजुर्ग की जोड़ी को राजस्थान की कमान सौपी है, किन्तु सच्चाई यह है कि युवा नेतृत्व को अपनी सीट चुनने में ही परेशानी आ रही है। पिछले पांच सालों में सचिन पायलट अपने लिए एक विधानसभा में भी पकड़ नही कर पाए है, इसीलिए इलेक्शन लड़ने में उनको सीट के बारे में इतना सोचना पड़ रहा है।

बोहरा ने कहा – यही कारण था कि सचिन पायलट ने अजमेर लोकसभा उपचुनाव से भी स्वयं को दूर कर लिया था, जबकि वह भारी मतों से 2009 का MP इलेक्शन अजमेर से जीत चुके थे। कांग्रेस को कैंडिडेट्स फाइनल करने में इतनी देरी लग रही है, इससे यह स्पष्ट है कि नेतृत्व में कहीं न कहीं कोई झोल एवं विचारों में आपसी टकराहट है। बोहरा ने बताया कि आम आदमी पार्टी ने 104 विधानसभाओं में अपने प्रत्याक्षी उतार चुकी है और आजकल में ही बाकि रही सीटों पर भी प्रत्याशियों की घोषणा कर देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here