शहीद दिवस पर किसान महापंचायत की जयपुर के विद्याधर स्टेडियम में महासभा |

557

शहीद दिवस पर किसान महापंचायत की जयपुर के विद्याधर स्टेडियम में महासभा |

किसान आंदोलनकारियों ने शहीद दिवस के अवसर पर विद्याधर स्टेडियम में किसान महासभा आयोजित की जिसमे शुरू करने से पहले शहीद भगत सिंह , राजगुरु और सुखदेव जैसे शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की गयी । इस महासभा में किसानों के अलावा युवाओं व जयपुर के तमाम सामजिक संगठनों ने भी भाग लिया |

जानकारी के लिए बता दें कि मंगलवार 23 मार्च 2021 को निकाली गई रैली में किसान नेता राकेश टिकैत ने वहां आए नागरिकों को संबोधित करते हुए यह कहा कि किसान अब अपनी उपज को संसद में बेचेंगे और कृषि कानून को लेकर अपना विरोध जताएंगे। इसके साथ-साथ उन्होंने यह भी कहा कि कोई भी नागरिक जाती या धर्म के आधार पर एक दूसरे से अलग नहीं होगा क्योंकि मोदी सरकार ने सब को एक दूसरे से जाति धर्म के नाम पर अलग करने की कोशिश की है।

दिल्ली में आएंगे राजस्थानवासी –

शहीद दिवस के अवसर पर लोगों को संबोधित करते हुए राकेश टिकैत ने यह भी कहा कि उन सबको अपने अपने ट्रैक्टर लेकर दिल्ली की ओर मार्च करना है और संसद में अपनी उपज को बेचना है। यहां जानकारी के लिए बता दें कि राकेश टिकैत ने संसद में उपज बेचने के लिए इसलिए कहा है क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी ने यह कहा था कि किसान अपनी उपज देश में कहीं भी बेच सकते हैं तो इसलिए अब किसान अपनी फसलें संसद में बेचेंगे क्योंकि संसद से बेहतर मंडी कोई नहीं है। इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि जिस दिन भी संयुक्त किसान मोर्चा दिल्ली मार्च के लिए तारीख निर्धारित करेगा उस दिन सभी राजस्थान वासियों को दिल्ली में अपना घेराव करना होगा जिससे की मनमानी करती हुई सरकार को सबक मिल सके।

युवाओं से भी की अपील –

संयुक्त किसान मोर्चा के नेता राकेश टिकैत ने देश के सभी युवाओं से भी अपील की है कि वह किसानों के साथ हो रहे इस अन्याय के खिलाफ आगे आएं क्योंकि देश के युवाओं की भी यह जिम्मेदारी है कि वह आगे बढ़े और सरकार के विरुद्ध आवाज उठाएं।

सभी धर्मों के लगेंगे नारे –

किसान नेता राकेश टिकैत ने यह भी कहा है कि जब सभी धर्मों के लोग एक साथ मिल जाएंगे और एकता के साथ सरकार के अन्याय के विरुद्ध आवाज उठाएंगे तो निश्चित ही सफलता मिलेगी। इसलिए उन्होंने कहा है कि देश को बचाने के लिए हमारा स्लोगन जय श्री राम, जय भीम, अल्लाहू अकबर और हर हर महादेव होगा जिसके हम नारे लगाएंगे।

भीम आर्मी के नेता चंद्रशेखर और योगेंद्र यादव भी थे मौजूद – 

बता दें कि इस अवसर पर भीम आर्मी के फाउंडर चंद्रशेखर आजाद के अलावा योगेंद्र यादव भी मौजूद थे। चंद्रशेखर ने राजस्थान वासियों से कहा है कि आजादी पाने के लिए सभी को एक होना है चाहे किसान हो या फिर कोई मजदूर। यहां बता दें कि योगेंद्र यादव ने भी राजस्थान में गेहूं बाजरा और मूंग जैसी खाद्य फसलों का हवाला देकर यह कहा कि सरकार किसानों को एमएसपी से भी बहुत ही कम कीमतों पर उनकी उपज को बेचने के लिए मजबूर करती है जिससे कि किसानों का बहुत नुकसान होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here