उत्तरप्रदेश : गांधी परिवार के बाद अमेठी की नई पहचान बनेगा ‘अचार’

अप्रैल 2015 में लॉन्च में लांच हुई पीएम कौशल विकास योजना से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी की अब तक पहचान गाँधी परिवार से रही, लेकिन अब इसको जल्द ही नई पहचान मिलेगी, नई पहचान अमेठी अचार से मिलेगी.....

1074

अमेठी। इंडियन नेशनल कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र यूपी के अमेठी की पहचान अभी तक गांधी परिवार के कारण बनी रही लेकिन अब जल्द ही अमेठी जिले की नई पहचान “अमेठी अचार” के रूप में सामने आ रहा है। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने ट्विटर पर ट्वीट कर इसकी फोटो पोस्ट शेयर कर जानकारी दी। स्मृति ईरानी ने ट्वीट में लिखा, ‘कमिंग सून- अमेठी अचार- एक ब्रैंड जन्मा, विकसित हुआ और अमेठी की महिलाओं द्वारा अप्रैल 2017 में खुले प्रधानमंत्री कौशल केंद्र (पीएमकेके) से आगे बढ़ रहा है।

बता दे कि इस अमेठी अचार के ब्रैंड से लेकर इसे बनाने और पैक करने का सम्पूर्ण काम अमेठी जिले की महिलाओं ने ही किया है। दरअसल पिछले साल अप्रैल महीने में यहां प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत सेंटर खोला था जिसके जरिये स्थानीय महिलाओं ने यहां अचार तैयार किया है।

राहुल गांधी का बिगाड़ेगी समीकरण…

माना जा रहा है कि इस अचार के प्रचार के साथ ही स्मृति ईरानी 2019 लोकसभा चुनाव में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का ‘जायका’ बिगाड़ने की तैयारी कर रही हैं। ईरानी समय-समय पर अमेठी और यहां की लोकल समस्याओं को लेकर गाँधी परिवार पर जवाबी प्रहार भी करती रहती है। इससे पहले लोकसभा चुनाव 2014 में टिकट पर स्मृति ईरानी ने अमेठी से राहुल गाँधी को कड़ी टक्कर दी थी हालांकि उन्हें यहां मात मिली थी।

योजना को अप्रैल 2015 में लॉन्च…

बता दें कि प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना को अप्रैल 2015 में लॉन्च किया गया था। इस योजना का लक्ष्य युवाओं को रोजगारपरक कौशल विकास के लिए प्रोत्साहित करना है। कौशल प्राप्ति पर उनको सर्टिफिकेट और मौद्रिक पुरस्कार भी देने का इसके तहत प्रावधान है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here