बीजेपी सांसद ने अपने ही विधायक पर उठाई चप्पल, एसडीएम को धमकाया

824

लखनऊ. यूपी के सीतापुर की महोली तहसील परिसर में शनिवार को चल रहा कम्बल वितरण कार्यक्रम अचानक सांसद और विधायक समर्थकों के बीच हाथापाई यानि कुटाई कार्यक्रम में तब्दील हो गया। इसमें लात, घूंसे और कुर्सियां भी खूब चलीं. धौरहरा सांसद रेखा वर्मा ने एसडीएम बृजपाल सिंह को सार्वजनिक तौर पर धमकाया भी। कहा कि एसडीएम साहब दो दिन नहीं रूक पाओगे। यह मामला यहीं नहीं थमा, समर्थकों की लगातार टिप्प्णी और कहासुनी ने आग में घी का काम किया। इसके बाद बवाल मच गया। सांसद और विधायक समर्थक एक दूसरे से भिड़ गए।

दरअसल दोपहर करीबन डेढ बजे महोली तहसील प्रशासन ने कंबल वितरण कार्यक्रम रखा था। उस समय सांसद लोगों को कंबल बांट रही थी। तभी विधायक शशांक त्रिवेदी भी अपने समर्थकों के साथ तहसील परिसर पहुंच गए और उन्होंने भी कंबल बांटना शुरू कर दिया तो परिसर में अव्यवस्था बढ गई। इस पर सांसद खफा हो उठीं, पहले तो उन्होंने नाराजगी जताते हुए एसडीएम बृजपाल सिंह की क्लास ली। कहा कि औकात में रहो, दो दिन भी नहीं टिक पाओगे।

इस बीच विधायक समर्थकों ने कुछ बोलने की कोशिश की तो सांसद ने उन्हें डांटकर चुप करा दिया। इस हाईवोल्टेज ड्रामे के बाद परिसर में हंगामा हो गया। सांसद ने चप्पल तक निकाल ली और एसडीएम के साथ ही विधायक को धमकी दी। समर्थकों ने एक दूसरे पर लात और कुर्सियों से हमला कर दिया। हंगामा शांत होता नहीं देख एसडीएम ने सांसद को अपने कमरे और विधायक को दूसरे कमरे में बंद कराया। तब जाकर माहौल शांत हुआ। दोनों जनप्रतिनिधियों में सुलह समझौते की बातचीत चल रही थी।

हालांकि इस घटना की सूचना मिलते ही डीएम सारिका मोहन, पुलिस अधीक्षक आनन्द कुलकर्णी भी मौके पर पहुंचे।

इसके बाद कंबल लेने आई जनता ने कंबल लिए, दोनों नेताओं की लड़ाई देखी और चटखारे लेते हुए अपने घर चल दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here