विष्णु चेतानी बने भाजपा जिलाध्यक्ष, मनोज सिंघानिया ने लक्ष्मणगढ़ से दावेदारी का हवाला दे राष्ट्रीय महामंत्री को की थी इस्तीफे की पेशकश

40

सीकर. भाजपा प्रदेश नेतृत्व की ओर से रविवार रात को प्रदेश कार्यकारिणी और तीन जिलों में बदलाव करते हुए सीकर में विष्णु चेतानी को अध्यक्ष बना दिया गया। जिलाध्यक्ष मनोज सिंघानिया सहित आठ जिलाध्यक्षों ने पांच रोज पहले भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री मुरलीधर राव के समक्ष विधानसभा चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर करते हुए इस्तीफे की पेशकश की थी। सिंघानिया का दावा है कि रविवार शाम को उन्होंने पद से इस्तीफा दे दिया था। सिंघानिया को प्रदेश कार्यसमिति सदस्य बनाया गया है। चेतानी पूर्व में भाजयुमो जिलाध्यक्ष रह चुके हैं। हालांकि जिले में दो जिलाध्यक्ष का नियम अब भी पूरा नहीं हो पाया है।

हाल में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की ओर से गाइड लाइन जारी की गई थी कि पद पर रहते हुए कोई भी जिलाध्यक्ष चुनाव नहीं लड़ सकेगा। इसके बाद से कई जिलाध्यक्षों ने इस पर आपत्ति जताई। मनोज सिंघानिया लक्ष्मणगढ़ से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं। सिंघानिया को लेकर भाजपा का एक गुट लंबे समय से इनका विरोध कर रहा था। कुछ समय पहले नवनियुक्त प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी से मिलकर नेताओं ने जिला संगठन में बदलाव की मांग की थी। लेकिन प्रदेश स्तर से उस वक्त कोई फैसला नहीं लिया गया था। इसके बाद
मुख्यमंत्री गौरव यात्रा सहित कई कार्यक्रम आयोजित हुए।

लक्ष्मणगढ़ में बढ़ रहे हैं दावेदार, होगा घमासान…

टिकट को लेकर जिले में सबसे ज्यादा घमासान लक्ष्मणगढ़ में होना तय हो गया है। मनोज सिंघानिया के अलावा दिनेश जोशी, यूआईटी चेयरमैन हरिराम रणवां भी को प्रमुख दावेदार माना जा रहा है।

लगातार दूसरी बार महाजन पर दाव…

भाजपा ने महाजन समाज के वोट बैंक पर फोकस करते हुए सिंघानिया की जगह महाजन को ही दूसरा जिलाध्यक्ष बनाया है। पवन मोदी 2004 तक तीन बार भाजपा जिलाध्यक्ष रह चुके हैं। जनवरी 2017 में सिंघानिया को जिलाध्यक्ष बनाया गया था। लक्ष्मणगढ़ से चुनाव लड़ने की दावेदारी की है। रविवार शाम को प्रदेश नेतृत्व को इस्तीफा भेज कर कार्यकारिणी बंद कर दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here